Saturday, April 20, 2019

894-सपनों में भरनी है जान



डॉ.सुरंगमा यादव

सपनों में भरनी है जान
यदि बनानी है पहचान
क्षमताओं को अपनी जान
भर के देख फिर सही उड़ान
एक बार जो लेना ठान
उस पर ही करना संधान
धूप-ताप आए बरसात
मन की छतरी लेना तान
खुद बनना अपनी प्रेरणा
हालात पर नहीं बिफरना
पीछे मुड़कर नहीं निरखना
भ्रमजाल भी जाने कितने
मिल जाएँगे पथ में
मगर तुझे है बढ़ना
अपनी ही धुन में
गहराए यदि कहीं अँधेरा
मुसकानों के दीप जलाना
मन-सुमन खिलाए रखना
निश्चित है मंजिल को पाना
-0-

18 comments:

ज्योत्स्ना प्रदीप said...

सुन्दर सन्देश देती प्यारी कविता.... हार्दिक बधाई सुरंगमा जी! !

Jyotsana pradeep said...

सुन्दर सन्देश देती प्यारी कविता.... हार्दिक बधाई सुरंगमा जी! !

सविता अग्रवाल said...

डॉ सुरंगमा जी बहुत सकारात्मक सोच से भरपूर कविता है बधाई हो|

Shiam said...

सुरंगमा जी की ये पंक्तियाँ पढकर श्याम नरायन पाण्डेय जी की याद आ गयी | आजकल बहुत कम ही लोग प्रेरणात्मक कविता की ओर ध्यान देते हैं | आपकी रचना बड़ी ओजपूर्ण और प्रोत्साहन से भरी हुयी है | आपने ठीक कहा है कि"सपनों में भरनी है जान|" आप बधाई की पात्र हैं | श्याम त्रिपाठी -हिन्दी चेतना

Dr. Purva Sharma said...

सुंदर रचना ... बधाइयाँ

Dr. Purva Sharma said...

सुंदर रचना
बधाई

Jyotsana pradeep said...

सुन्दर सन्देश देती प्यारी रचना.... बहुत-बहुत बधाई आपको सुरंगमा जी !

Manju Mishra said...

धूप-ताप आए बरसात
मन की छतरी लेना तान
खुद बनना अपनी प्रेरणा...

बहुत सुन्दर बात कही है...

Jyotsana pradeep said...

सुन्दर सन्देश देती एक प्यारी रचना...
हार्दिक बधाई सुरंगमा जी !

ज्योत्स्ना प्रदीप said...

सुन्दर सन्देश देती एक प्यारी रचना...
हार्दिक बधाई सुरंगमा जी !

bhawna said...

1सुंदर सकारात्मक कविता

bhawna said...

सुंदर सकारात्मक कविता

Jyotsana pradeep said...

बहुत सुन्दर रचना सुरंगमा जी..... हार्दिक बधाई!

Krishna said...

बहुत सुंदर रचना...सुरंगमा जी बहुत बधाई।

Krishna said...

बहुत सुंदर प्रेरक रचना...बहुत-बहुत बधाई सुरंगमा जी।

सविता अग्रवाल said...

डॉ सुरंगमा जी सपनो को पूरा करने और अपनी पहचान बनाने पर आपके मन के भावों को नमन |

Kamlanikhurpa@gmail.com said...

धूप ताप बरसात में मन की छतरी तान लेना । बहुत सुंदर अभिव्यक्ति ।
बधाई

शिवजी श्रीवास्तव said...

सकारात्मक संदेश देती सुंदर एवम प्रभावी कविता,बधाई सुरंगमा जी