Wednesday, November 11, 2015

अँधियारे से लड़ता चल




1-सुनीता पाहूजा

चित्र:गूगल से साभार
हम सबके जीवन में ज्ञान का प्रकाश हो 
हम सबके रिश्तों में प्रेम का अहसास हो
हर पल में मिठाई से ज्यादा मिठास हो
इंसानियत के प्रति आशा और विश्वास हो ।
सबसे बड़ा धन तो मानवता है, चहुँ ओर हम
इसकी खुश्बू फैलाएँ और कई गुना वापस पाएँ
दीयों के प्रकाश से अपनी दीपावली मनाएँ, 
कुम्हारों के जीवन में आशा की किरण जगाएँ...........
0-
2-मंजु मिश्रा

ऐ मेरे दीपक जलता चल
अंधियारे से लड़ता चल

कभी नहीं तू घबराना
आँधी हो या बारिश हो
क़दमों को मजबूती से
आगे आगे रखता चल
ऐ मेरे दीपक जलता चल
        अँधियारे से लड़ता चल

जाने कितने घर आँगन हैं
जिनमे अभी अँधेरा है,
बाँट रौशनी सबको इकसम
भेद-भाव से बचता चल
ऐ मेरे दीपक जलता चल
        अँधियारे से लड़ता चल

बहुत मिलेंगे रस्ते में जो
मोलतोल की बात करेंगे
मत फँसना उनके फंदे में
सब चालों से बचता चल
ऐ मेरे दीपक जलता चल
        अँधियारे से लड़ता चल

नहीं हुआ सोने का तो क्या
जगमग लौ तो तेरी भी है
महलों में तो बहुत उजाला
तू कुटिया में जलता चल
ऐ मेरे दीपक जलता चल
        अँधियारे से लड़ता चल
-0-

18 comments:

  1. बहुत सुन्दर रचनाएं। आपको दीप पर्व की हार्दिक मंगलकामनाएं।

    ReplyDelete
  2. सभी मित्रों को दीपावली की ढेरों शुभकामनायें !

    सुनीता पाहूजा जी को सुन्दर रचना के लिये बधाई, मेरी रचना को यहाँ स्थान देने के लिये बहुत बहुत धन्यवाद !

    ReplyDelete
  3. बहुत सुंदर कविताएँ हैं, सुनीता जी व मंजू जी को बधाई तथा दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें|
    पुष्पा मेहरा

    ReplyDelete
  4. मंजू जी और सुनीता जी को सुंदर रचनाओं के साथ दीप-पर्व की हार्दिक बधाई !

    ReplyDelete
  5. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  6. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  7. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  8. सभी को दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं।
    कविता का महत्व बढ़ाने के लिए आभार।
    मंजू जी को बधाई

    ReplyDelete
  9. सभी को दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं।
    कविता का महत्व बढ़ाने के लिए आभार।
    मंजू जी को बधाई

    ReplyDelete
  10. ब्लॉग बुलेटिन टीम की ओर से आप सब को दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें !!
    ब्लॉग बुलेटिन की आज की बुलेटिन, दीपावली की चित्रावली - ब्लॉग बुलेटिन , मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    ReplyDelete
  11. सुन्दर रचना सुनीता जी । बधाई

    बहुत सुन्दर मंजू जी। बधाई

    ReplyDelete
  12. दीप पर्व मुबारक !!

    ReplyDelete
  13. सुन्दर प्रस्तुति। दीप पर्व की शुभकामनाएँ।

    ReplyDelete
  14. सुन्दर रचना ......
    मेरे ब्लॉग पर आपके आगमन की प्रतीक्षा है |

    http://hindikavitamanch.blogspot.in/
    http://kahaniyadilse.blogspot.in/

    ReplyDelete
  15. मंजू जी व सुनीता जी आपकी रचनाएँ बहुत अच्छी लगी । बधाई

    ReplyDelete
  16. sundar prstuti..hardik badhai...

    ReplyDelete
  17. बहुत प्रेरणास्पद रचनाएँ...हार्दिक बधाई...|

    ReplyDelete
  18. उदात्त भाव भरी सुन्दर रचनाएँ ..हार्दिक बधाई दोनों रचनाकारों को !

    ReplyDelete