Wednesday, December 3, 2008

चिकौटियाँ



1-समय का सदुपयोग

रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु'

अगर आप सरकारी कर्मचारी हैं तो समय का सदुपयोग सीखिए।घर में अधिक से समय बीवी- बच्चों के साथ बिताइए । नाते- रिश्तेदरों से बात करना हो तो दफ़्तर के समय में बात कर लीजिए। दफ़्तर का ही फोन मिल जाए तो फिर क्या कहना जीभर बात कीजिए ।आपके सामने जो अपने काम के लिए सिर पर सवार है ,उसकी चिन्ता मत कीजिए ।वह तो पूरे दिन को बर्बाद करने के लिए आया है । इन्तज़ार कराकर उसकी सहायता कीजिए ।उसको देखकर भी अनदेखा कर दीजिए । एक बार में ही किसी का काम निबटा देंगे तो वह दुबारा दफ़्तर की ख़ाक छानने क्यों आएगा ?सर्दी का मौसम है, कुछ समय धूप में खड़े होकर स्वास्थ्य लाभ कीजिए । यही बचा-खुचा-नुचा स्वास्थ्य रिटायरमेण्ट के बाद काम आएगा।

2-बुलेट प्रूफ़ जैकेट
रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु'

आजकल चिन्ता है- निकम्मी बुलेट प्रूफ़ जैकेट की;जिन्हें पहनने के मुगालते में हमारे बहादुर पुलिसवाले शहीद हो गए । यह भ्रम मत रखिए कि हमारे नेता बहादुर नहीं हैं, वे निर्भय होकर नहीं रह सकते हैं ।यदि विश्वास न हो तो ये निकम्मी बुलेट प्रूफ़ जैकेट उन्हें पहना दीजिए ।पुलिसवालों के लिए नई ला दीजिए । नेतालोग देश के लिए क्या इतना त्याग नहीं कर सकते ? ये बहुत कुछ खा और पचा सकते हैं ।दो टके की गोली इनका बाल भी बाँका नहीं कर सकती ।शुभ कार्य में देरी क्या? हमारे बयान-बाँकुरे इस पुनीत कार्य में सबसे आगे रहेंगे । आदमी का इन्सल्टप्रूफ़ होना बहुत बड़ी ताकत है।इस ताकत के आगे बुलेट प्रूफ़ जैकेट की क्या औक़ात !
3 दिसम्बर 2008

5 comments:

  1. ... प्रभावशाली अभिव्यक्ति।

    ReplyDelete
  2. कितना बढ़िया अंतर बताया है - इन्सल्टप्रूफ़ नेता और बुलेट प्रूफ़ जैकेट में /
    वास्तव में ज़ंग लड़ने के लिए यदि एक बार बुलेट प्रूफ़ जैकेट ना हो तो ज़ंग जीती जा सकती है परन्तु बिना इन्सल्टप्रूफ़ नेता के देश को चलना मुश्किल है /

    ReplyDelete
  3. आदमी का इन्सल्टप्रूफ़ होना बहुत बड़ी ताकत है।इस ताकत के आगे बुलेट प्रूफ़ जैकेट की क्या औक़ात !

    करारा व्यंग्य.... लेकिन बेशर्मों की खाल बहुत मोटी होती है... वो तो इस बात में विश्वास रखते हैं.. बदनाम जो होंगे तो क्या नाम न होगा.

    ReplyDelete
  4. रामेश्वर जी
    एक बार में ही किसी का काम निबटा देंगे तो वह दुबारा दफ़्तर की ख़ाक छानने क्यों आएगा ?
    इन पक्तियों में मजा आ गया होंठ अपने आप चौड़े हो गए
    मधु

    ReplyDelete