Sunday, September 16, 2007

जीवन-धारा

पहाड़ पर चढ़ना कठिन है ,इसी तरह ईमानदारी का जीवन जीना दुष्कर है;पतन होना भी कठिन है।
बेईमानी का जीवन जीना आसान है ; उसी तरह पतन का मार्ग भी आसान है।गिर पड़े तो सँभलना लगभग असंभव है ।
अत: कठिनाइयों में भी सच्चे मार्ग का अनुसरण करो ।